खबर आज तक

Himachal

दीपावली पर्व: धर्मशाला में खूब लगी रौनक; लोगों ने जमकर की खरीददारी, बारिश ने मायूस किए कारोबारी

दीपावली पर्व

मोनिका शर्मा, धर्मशाला

दीपों का त्योहार दीपावली हर वर्ष पूरे भारत में धूमधाम से मनाया जाता है। हिंदू धर्म में दीपावली पर्व का विशेष महत्व है। दीपावली का शुभ पर्व भगवान राम के वनवास के 14 वर्ष बाद अयोध्या लौटने की खुशी में मनाया जाता है। इस दिन घरों को देवों की रोशनी से जगमगाया जाता है।

इसी कड़ी में जिला मुख्यालय धर्मशाला में सुबह से जहां बाजारों में रौनक लगी रही। लोगों ने कचहरी बाजार में सजी दुकानों में खूब खरीददारी की।

वहीं दोपहर के समय शुरू हुई बारिश ने कारोबारियों की चिंता बढ़ा दी। धनतेरस तथा दीपावली के पर्व के चलते काफी संख्या में लोग खरीदारी करने बाजार में पहुंचे हुए थे,  जबकि शुक्रवार सुबह से ही बादलों ने डेरा डाला हुआ था तथा काफी ठंड महसूस की जा रही थी। कचहरी, गुरुद्वारा मार्ग बाजार तथा कोतवाली के बाजार में सुबह से काफी भीड़ नजर आई लेकिन बारिश शुरू होने के साथ ही त्योहारों का सीजन होने के बावजूद बाजारों में सन्नाटा पसर गया! इस दौरान जहां बाजार में काफी संख्या में पारंपरिक दीये बिकते हुए नजर आए , तो वहीं इलेक्ट्रॉनिक तथा आर्टिफिशल फूलों की झालरों से भी दुकानें सजी नजर आई।

इस दौरान सुबह बाजारों में धनतेरस तथा दीपावली के पावन पर्व को लेकर कई तरह के उत्पाद बिकते नजर आए। माता लक्ष्मी समेत दूसरे देवी देवताओं के चित्रों, मिट्टी के दीयों तथा मूर्तियां, अखरोट समेत झालरों आदि समेत साज-सज्जा का सामान बाजारों में बिकता नजर आया।

कांगड़ा जिला के चैतड़ू से आई रीनू ने बताया कि वो मिट्‌टी के दीये बेच रही है तथा लोग इन्हें खरीद भी रहे हैं। उसने कहा कि मौसम के खराब होने के कारण ज्यादा लोग बाजार में नहीं पहुंचे हैं।

बताते चलें कि परंपरा के अनुसार दीवाली के पावन पर्व में पुरातन काल से मिट्‌टी के दीये ही जलाए जाते हैं। हालांकि मोमबती से लेकर इलैक्ट्रोनिक उत्पादों ने परंपरागत बाजार में अब जगह बना ली है तथा इससे परंपरा के साथ करीगरों पर भी संकट आया है।

कांगड़ा के प्रियांशु के अनुसार सुबह से कारोबार ठीक था लेकिन मौसम के खराब रहने के बाद बारिश शुरू होने के कारण कारोबार नहीं हो पाया।

साज सज्जा का सामान बेच रहे रविंद्र के अनुसार बाजार में सुबह से रोनक थी लेकिन बारिश ने सारा खेल बिगाड़ दिया। उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद थी आम दिनों की तरह रहने वाले मौसम के कारण बढ़िया कारोबार हो जाएगा लेकिन बारिश के कारण कारोबार गति नहीं पकड़ सका।

अब मौसम के मिजाज पर टिका कारोबार

दूकानदारों के अनुसार दीपावली के तयौहार के बीच अब शनिवार का दिन बचा है तथा इस दिन मौसम साफ रहा तो लोग खरीदारी करने के लिए उमड़ेंगे। इससे कारोबारियों को अच्छे कारोबार की उम्मीद है। धर्मशाला में बारिश के साथ काफी ठंड भी महसुस की जा रही है।

धौलाधार की बफीर्ली पहाड़ियों को छूकर निकलती ठंडी ब्यार सिंहरन पैदा कर रही है। हालांकि मौसम के पूर्वानुमानों के अनुसार अगले दो दिन मौसम साफ रहेगा। लिहाजा ऐसेा होने पर दूकानदारों को अच्छे कारोबार की आस है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

The Latest

http://khabraajtak.com/wp-content/uploads/2022/09/IMG-20220902-WA0108.jpg
To Top